आरतियाँ

आरतियाँ

चामुण्डा देवी की आरती

जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी। निशिदिन तुमको ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवजी॥ जय अम्बे माँग सिन्दूर विराजत, टीको, मृगमद को। उज्जवल से दोउ नयना, चन्द्रबदन नीको॥ जय अम्बे कनक समान कलेवर...

आरतियाँ

श्री संतोषी माता की आरती व आरती का महत्व और नियम

श्री संतोषी माता आरती व आरती का महत्व और नियम जय संतोषी माता, मैया जय संतोषी माता । अपने सेवक जन को, सुख संपति दाता ॥ जय सुंदर चीर सुनहरी, मां धारण कीन्हो । हीरा पन्ना दमके, तन श्रृंगार लीन्हो...

आरतियाँ

श्री श्यामबाबा की आरती व आरती का महत्व और नियम

श्री श्यामबाबा की आरती व आरती का महत्व और नियम ॐ जय श्री श्याम हरे , बाबा जय श्री श्याम हरे | खाटू धाम विराजत, अनुपम रुप धरे ॥ ॐ जय श्री श्याम हरे…. रत्न जड़ित सिंहासन, सिर पर चंवर ढुले| तन केशरिया...

आरतियाँ

संतोषी माता की आरती व आरती का महत्व और नियम

जय संतोषी माता, मैया जय संतोषी माता । अपने सेवक जन को, सुख संपति दाता ॥ जय सुंदर चीर सुनहरी, मां धारण कीन्हो । हीरा पन्ना दमके, तन श्रृंगार लीन्हो ॥ जय गेरू लाल छटा छवि, बदन कमल सोहे । मंद हँसत...

आरतियाँ

श्री कुंज बिहारी की आरती व आरती का महत्व और नियम

श्री कुंज बिहारी की आरती व आरती का महत्व औऱ नियम आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की ॥ गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला। श्रवण में कुण्डल झलकाला, नंद के आनंद नंदलाला। गगन...

आरतियाँ

पार्वती जी की आरती व आरती का महत्व और नियम

पार्वती जी की आरती व आरती का महत्व और नियम जय पार्वती माता जय पार्वती माता ब्रह्मा सनातन देवी शुभफल की दाता ।। अरिकुलापदम बिनासनी जय सेवक्त्राता, जगजीवन जगदंबा हरिहर गुणगाता ।। सिंह को बाहन...

आरतियाँ

श्री बृहस्पति देव की आरती व आरती का महत्व और नियम

श्री बृहस्पति देव की आरती व आरती का महत्व और नियम जय बृहस्पति देवा, ऊँ जय बृहस्पति देवा । छि छिन भोग लगाऊँ, कदली फल मेवा ॥ तुम पूरण परमात्मा, तुम अन्तर्यामी । जगतपिता जगदीश्वर, तुम सबके स्वामी...

आरतियाँ

श्री कृष्ण जी की आरती व आरती का महत्व और नियम

श्री कृष्ण जी की आरती व आरती का महत्व और नियम ॐ जय श्री कृष्ण हरे, प्रभु जय श्री कृष्ण हरे भक्तन के दुख टारे पल में दूर करे. जय जय श्री कृष्ण हरे…. परमानन्द मुरारी मोहन गिरधारी. जय रस रास बिहारी...

आरतियाँ

श्री राधा जी की आरती व आरती का महत्व और नियम

श्री राधा जी की आरती व आरती का महत्व और नियम ॐ जय श्री राधा जय श्री कृष्ण ॐ जय श्री राधा जय श्री कृष्ण श्री राधा कृष्णाय नमः .. घूम घुमारो घामर सोहे जय श्री राधा पट पीताम्बर मुनि मन मोहे जय श्री...

आरतियाँ

श्री हनुमानजी की आरती

मनोजवं मारुत तुल्यवेगं ,जितेन्द्रियं,बुद्धिमतां वरिष्ठम् || वातात्मजं वानरयुथ मुख्यं , श्रीरामदुतं शरणम प्रपद्धे || आरती किजे हनुमान लला की | दुष्ट दलन रघुनाथ कला की ॥ जाके बल से गिरवर काँपे |...